अरुणाचल प्रदेश में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 8 अधिकारियों और पुलिस समेत 21 गिरफ्तार

Hindi | 16 May, 2024 | 10:35 AM
સાંજ સમાચાર

ईटानगर: अरुणाचल प्रदेश पुलिस ने ईटानगर में नाबालिग लड़कियों से जुड़े एक अंतर-राज्यीय सेक्स तस्करी और वेश्यावृत्ति गिरोह का भंडाफोड़ किया है। हैरानी की बात यह है कि इस सेक्स रैकेट में फंसाई गई 10 से 15 साल की उम्र की पांच लड़कियों को बचाया है। 10 दिनों तक चली छापेमारी में पुलिस ने तस्करों, दलालों और ग्राहकों सहित 21 लोगों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए ग्राहकों में आठ सरकारी कर्मचारी भी शामिल हैं। पुलिस के अधिकारी भी हैं। पुलिस ने बताया कि सभी लड़कियां असम के धेमाजी और उदलगुरी के गरीब परिवारों से थीं, जिन्हें बेहतर जीवन देने के बहाने 2020 और 2023 के बीच ईटानगर लाया गया था और वेश्यावृत्ति में धकेल दिया गया था।

पुलिस ने बताया कि रेस्क्यू कराई गई लड़कियों में से एक की उम्र सिर्फ आठ साल थी जब उसे 2020 में ईटानगर लाया गया था। ईटानगर (राजधानी) के एसपी रोहित राजबीर सिंह ने कहा, 'वह भागने में सफल रही, लेकिन उसे 2022 में वापस लाया गया।'

इससे भी ज़्यादा परेशान करने वाली बात यह है कि शुरुआती मेडिकल रिपोर्ट से पता चलता है कि तीन लड़कियों में की तबीयत खराब है। उनमें एचआईवी-एड्स जैसी गंभीर बीमारी होने के संकेत मिले हैं।

पुलिस ने बताया कि विश्वसनीय सूचना के आधार पर चिम्पू में तेची रीना उर्फ अनिया और जमलो तागुंग के आवास-सह-वेश्यालय पर छापेमारी की गई और तीन नाबालिगों को बचाया गया। अन्य दो ने बताया कि उन्हें दो बहनों पुष्पांजलि मिली उर्फ टूटू मिली और पूर्णिमा मिली धेमाजी से तस्करी कर लाई थीं। उसके बाद उन्होंने तेची और जमलो के साथ मिलकर उन्हें वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया था।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि पहले के 15 बंदियों से पूछताछ करने के बाद ऐक्शन लिया गया। इस कार्रवाई में अरुणाचल सशस्त्र पुलिस की पहली बटालियन में तैनात पुलिस उपाधीक्षक बुलंग मारिक, एक पुलिस कॉन्स्टेबल, तीन दलाल और एक अन्य सहित छह और लोगों को गिरफ्तार किया गया।

चल रही जांच के हिस्से के रूप में, पुलिस ने एक दंपति-दुलाल बासुमतारी (52) और दीपाली बासुमतारी (44) की पहचान की। ये ईटानगर में चिड़ियाघर रोड पर सिटी होटल चलाते थे। होटल के प्रबंधक दीपक पराजुली (24) भी इसमें शामिल था। दीपक बासुमतारी उदलगुड़ी के निवासी हैं और पराजुली असम के नारायणपुर के रहने वाले हैं।

पुलिस ने बताया कि लड़कियों को दो अन्य महिलाओं के साथ वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया गया था। पुलिस ने अपराध में शामिल दो होटलों और एक ब्यूटी पार्लर की भी पहचान की है। अरुणाचल प्रदेश महिला आयोग की अध्यक्ष केंजुम पाकम ने राज्य सरकार से बच्चों की तस्करी और यौन शोषण रैकेट में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह किया। आयोग ने एक बयान में कहा कि वह राज्य से नाबालिग लड़कियों की यौन तस्करी के जघन्य अपराध से बहुत हैरान और दुखी है। यह जानना भी शर्मनाक है कि इस मामले में महिलाएं और विद्वान शामिल हैं।

Related News
Sports News
Loading...
Facebook Twitter LinkedIn Pinterest
Get In Touch

Rajkot - Head Office, Sanj Samachar Corporate House, 2nd Floor, Kasturba Road, Near Sharda Baug
Rajkot-360001

0281-2473911-12-13

[email protected]

Privacy-policy
Keep In Touch

Subscribe to Our Newsletter to get Important News & Offers

Download App from

Download android app - Sanj Download ios app - Sanj