बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड में शामिल एक लाख का इनामी बदमाश पुलिस मुठभेड़ में ढेर, दूसरा फरार

Hindi | 09 April, 2024 | 10:12 AM
સાંજ સમાચાર

पुलिस की टीम एक ढाबे के पास चैकिंग कर रही थी। पुलिस ने बाइक सवार दो लोगों को रोकने का प्रयास किया लेकिन वह कलियर की तरफ भागने लगे। पुलिस ने कुछ दूर जाने पर दोनों बदमाशों को घेर लिया तो बदमाशों ने पुलिस पर हमला कर दिया। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की जिसमें एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया।

जागरण सवांददाता रुड़की। मंगलवार की सुबह इमली खेड़ा मार्ग पर पुलिस की बाइक सवार बदमाशों से मुठभेड़ हो गई, जिसमें 10 लाख रुपये की सुपारी लेकर नानकमत्ता डेरा कारसेवा प्रमुख तरसेम सिंह की हत्या करने वाला एक बदमाश मौके पर ढेर हो गया। जबकि दूसरा फरार हो गया।

पुलिस ने दूसरे बदमाश की तलाश की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिल पाया। सूचना मिलने पर एसएसपी समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। पुलिस के मुताबिक, सोमवार की सुबह इमली खेड़ा मार्ग पर भगवानपुर थाना पुलिस की टीम एक ढाबे के पास चैकिंग कर रही थी।

इसी दौरान पुलिस ने बाइक सवार दो लोगों को रोकने का प्रयास किया, लेकिन वह कलियर की तरफ भागने लगे। शक होने पर पुलिस ने इनका पीछा किया। पुलिस ने कुछ दूर जाने पर दोनों बदमाशों को घेर लिया तो बदमाशों ने पुलिस पर हमला कर दिया।

पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की, जिसमें एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया जबकि दूसरा जंगल के रास्ते फरार हो गया। पुलिस ने इसका पीछा भी किया लेकिन वह हाथ नहीं आया। घायल बदमाश को सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बदमाश की शिनाख्त अमरजीत सिंह उर्फ बिट्टू फतेहगढ़ चूड़ियां रोड नगली भट्ट अमृतसर के रूप में की गई। मुठभेड़ की सूचना के बाद एसपी परमेंद्र अग्रवाल मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। मही मुठभेड़ की सूचना मिलने पर डीआईजी देहरादून से मौके के लिए रवाना हो गए हैं।

28 मार्च को बाइक सवार दो बदमाशों ने नानकमत्ता में डेरा कारसेवा प्रमुख तरसेम सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस दौरान सीसीटीवी में कैद हत्यारों की पहचान तरनतारण, पंजाब निवासी सर्वजीत सिंह और फतेहगंज, अमृतसर (पंजाब) निवासी अमरजीत उर्फ बिट्टू के रूप में हुई।

तब से पुलिस उनकी तलाश कर रही थी। दोनों पर एक-एक लाख का इनाम भी घोषित कर दिया था। मामले में अभी तक पुलिस हत्या की साजिश और राइफल उपलब्ध कराने वाले सात षड्यंत्रकारियों को गिरफ्तार कर चुकी है। इधर,दोनों शूटरों की अंतिम लोकेशन पुलिस को शाहजहांपुर के निगोही में मिली थी।

इस बीच दोनों के अलग होने और नेपाल और बांग्लादेश भागने की भी आशंका जताई गई। सोमवार देर रात एक शूटर अमरजीत उर्फ बिट्टू की लोकेशन हरिद्वार में मिली तो एसटीएफ और पुलिस ने उसकी घेराबंदी कर दी। बताया जा रहा है कि उसने टीम पर फायरिंग की। पुलिस ने भी फायरिंग की, जिसमें वह मारा गया।

Related News
Sports News
Loading...
Facebook Twitter LinkedIn Pinterest
Get In Touch

Rajkot - Head Office, Sanj Samachar Corporate House, 2nd Floor, Kasturba Road, Near Sharda Baug
Rajkot-360001

0281-2473911-12-13

[email protected]

Privacy-policy
Keep In Touch

Subscribe to Our Newsletter to get Important News & Offers

Download App from

Download android app - Sanj Download ios app - Sanj